Godhan Nyay Yojana, Check Benefits, Eligibility and Apply Online Application

5/5 - (1 vote)

गोधन न्याय योजना राज्य के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा शुरू की गई एक योजना है। पशुपालकों और किसानों को लाभ प्रदान करने के लिए यह योजना 20 जुलाई 2020 को शुरू की गई थी। इस योजना के तहत राज्य सरकार किसानों से गोबर खरीदेगी और उन्हें राशि का भुगतान करेगी। इस योजना के तहत सरकार द्वारा खरीदे गए गोबर का उपयोग वर्मीकम्पोस्ट बनाने में किया जाता है। इस योजना से छत्तीसगढ़ सरकार न केवल किसानों को लाभ पहुंचाती है बल्कि गायों के लिए भी अच्छा काम करती है। यदि आप किसान हैं या सरकार को गोबर बेचकर भुगतान प्राप्त करना चाहते हैं, तो आपको पात्रता पूरी करनी होगी और इस योजना के लिए आवेदन करना होगा। इस लेख में हम आपको गोधन न्याय योजना, इसकी पात्रता, विशेषताएं, लाभ, आवेदन कैसे करें आदि के बारे में बताएंगे।

What is Godhan Nyay Yojana

गोधन न्याय योजना सरकार द्वारा शुरू की गई एक योजना है। इस योजना के तहत सरकार किसानों से गोबर खरीदती है और इसके लिए उन्हें तय रकम का भुगतान करती है। यह योजना किसानों को गाय का गोबर बेचकर पैसा कमाने में मदद करती है। सरकार इस गाय के गोबर का उपयोग वर्मीकम्पोस्ट बनाने में करती है। वर्मीकम्पोस्ट एक विशेष जैविक खाद है जिसे सरकार गाय के गोबर से बनाती है।

इसके बाद वे इस खाद को कम दाम पर किसानों को बेचते हैं और उन्हें जैविक खाद का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। यह योजना किसानों को जागरूक करती है कि गोबर को फेंकने के बजाय उसका बेहतर उपयोग कैसे किया जाए। यह किसानों को यह भी बताता है कि यदि वे गायों की अच्छी देखभाल करते हैं और उनके गोबर का बेहतर उपयोग करते हैं, तो वे इससे कुछ अतिरिक्त पैसे कमा सकते हैं।

देश में शुरू होने वाला इस तरह का यह पहला कार्यक्रम है. इस योजना का उद्देश्य उन पशुपालक किसानों को कुछ पैसे कमाने में मदद करना है, जो इतने अमीर नहीं हैं। सरकार उनसे गोबर खरीदती है ताकि वे अपनी आय बढ़ा सकें। 

गोधन न्याय योजना 2024 का अवलोकन

योजना का नामगोधन न्याय योजना
जब यह शुरू होता है20 जुलाई 2020
कौन शुरू करता हैमुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा
उद्देश्यकिसानों से गोबर खरीदकर उनकी आय बढ़ा रहे हैं
लाभार्थीराज्य पशुपालक
आवेदन का तरीकाऑनलाइन
गोबर की दर प्रदान की गई2 रुपये प्रति किलो
आधिकारिक वेबसाइटhttps://godhannyay.cgstate.gov.in/

गोधन न्याय योजना का उद्देश्य

गोधन न्याय योजना सरकार द्वारा गाय के गोबर से होने वाले प्रदूषण को कम करने और पशुपालकों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। इसका उद्देश्य किसानों को गोबर फेंकने के बजाय उसके बेहतर उपयोग के बारे में जागरूक करना भी है। यह योजना पशुपालकों को गाय के गोबर से बनी जैविक खाद का उपयोग करने का अधिकार देती है। इस योजना के लागू होने से पशुपालक सरकार को गोबर बेचकर मिलने वाली अतिरिक्त धनराशि से आत्मनिर्भर हो जाते हैं।

गोधन न्याय योजना की विशेषताएं एवं लाभ

गोधन न्याय योजना की कई अनूठी विशेषताएं और लाभ हैं

  • गोधन न्याय योजना पशुपालकों को गाय पालने और उनकी देखभाल करने के लिए सशक्त बनाएगी
  • गोबर खरीदी की शुरुआत छत्तीसगढ़ सरकार के सीएम भूपेश बघेल ने की थी
  • सरकार जैविक खाद यानी वर्मी कम्पोस्ट बनाने के लिए पशुपालकों से गोबर खरीदती है।
  • राज्य में गाय पालन से गाय के दूध का उत्पादन बढ़ेगा. यह सब इस योजना के कार्यान्वयन के कारण है।
  • पशुपालक इस योजना से लाभ की राशि सीधे अपने बैंक खाते में प्राप्त कर सकते हैं।
  • आवेदक इस योजना के लिए कंप्यूटर या मोबाइल फोन से आसानी से आवेदन कर सकते हैं।
  • इस योजना से पशुपालकों की आय बढ़ती है और उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार होता है।
  • गोधन न्याय योजना के तहत राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा दिया गया है
  • इस योजना के तहत सरकार किसानों से गोबर खरीदती है और उन्हें 2 रुपये प्रति किलो के हिसाब से भुगतान करती है
  • यह योजना पशुपालकों के लिए स्वरोजगार को सशक्त बनाने की शुरुआत कर रही है
  • इस योजना की सबसे अच्छी बात यह है कि इससे पर्यावरण स्वच्छ होता है और गाय के गोबर से अच्छी खाद बनती है
  • एक और अच्छी बात यह है कि इस योजना में 2240 गौशालाएं शामिल हैं और कुछ समय बाद 2800 गौशालाएं बनाई जाएंगी जहां गाय का गोबर बेचा जाएगा
  • इस योजना से शहरी और ग्रामीण दोनों क्षेत्रों के पशुपालक लाभान्वित हो सकते हैं

गोधन न्याय योजना पात्रता

  • वह व्यक्ति इस योजना के लिए पात्र है यदि उसके पास गाय है और वह छत्तीसगढ़ का निवासी होना चाहिए।
  • गाय के मालिक की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए
  • इस योजना के आवेदक के पास आधार कार्ड होना जरूरी है
  • जो व्यक्ति इस योजना के लिए आवेदन करना चाहता है उसके पास पहचान पत्र होना आवश्यक है
  • आवेदक के पास एक सक्रिय फ़ोन नंबर होना चाहिए
  • इस योजना के लिए पात्र बनने के लिए आवेदक को अपने पास मौजूद गायों की संख्या दर्ज करनी होगी।

आवश्यक दस्तावेज

गोधन न्याय योजना का लाभ पाने के लिए, आवेदकों के पास विभिन्न दस्तावेज होने चाहिए

  • पहचान पत्र
  • Aadhar Card
  • बैंक पासबुक कॉपी
  • स्थायी निवासी प्रमाण पत्र

गोधन न्याय योजना का रजिस्ट्रेशन फॉर्म

जो किसान गोधन न्याय योजना का लाभ पाने के लिए पंजीकरण करना चाहते हैं, उन्हें आधिकारिक वेबसाइट या गोधन न्याय ऐप से पंजीकरण फॉर्म डाउनलोड करना होगा। पंजीकरण फॉर्म डाउनलोड लिंक वेबसाइट पर उपलब्ध है जहां से आप इसे एक्सेस कर सकते हैं।

गोधन न्याय योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

छत्तीसगढ़ राज्य के जो किसान गोधन न्याय योजना के लिए आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें वेबसाइट पर अपना आवेदन पत्र भरना होगा। इसके लिए यहां आपके लिए स्टेप बाय स्टेप गाइड है

  • सबसे पहले आपको योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://godhannyay.cgstate.gov पर जाना चाहिए । में/ ।
  • आपके सामने एक होम पेज खुलेगा. अप्लाई विकल्प पर क्लिक करें
  • अब, आवेदन पत्र आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा। यहां, आपने अपना सभी सही विवरण दर्ज किया है
  • आवेदन पत्र के साथ सभी आवश्यक दस्तावेज सीधे अपलोड करें
  • अपना आवेदन पत्र जमा करने के लिए सबमिट बटन पर टैप करें

इस तरह आप आसानी से गोधन न्याय योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं और सभी लाभों का लाभ उठाने का मौका पा सकते हैं।

Leave a Comment